mutual fund in hindi | businesshunk.com

₹500 से एक करोड़ तक का सफर | What is Mutual Fund in Hindi | 3 मिनट में

स्टॉक बाजार की पर्याप्त जानकारी न होने पर भी निवेश की इच्छा रखने वालों के लिए एक सुलभ मार्ग म्यूचुअल फंड होता है।
Spread the love

4.3/5 - (3 votes)

स्टॉक बाजार की पर्याप्त जानकारी न होने पर भी निवेश की इच्छा रखने वालों के लिए एक सुलभ मार्ग म्यूचुअल फंड होता है।

www.businesshunk.com

Mutual Fund in Hindi: मुझे लगता है कि आप भी मेरी बात से सहमत होंगे, अगर मैं कहूं:

कि म्यूचुअल फंड का नाम सुनते ही मन में पेचीदा पन और डर सा लगने लगता है। 

दिमाक में तरह-तरह के सवाल उठते हैं कि अरे म्यूचुअल फंड है क्या?, म्यूचुअल फंड कैसे काम करता है, म्यूचुअल फंड कितने प्रकार के होते हैं. और आखिर में इसे म्यूच्यूअल फण्ड कहते क्यों है?

तो चलिए इसे एक उदाहरण के साथ समझते हैं। (Mutual fund in hindi)

Contents hide

म्यूच्यूअल फंड क्या है? (What is Mutual Fund in Hindi)

Meaning of mutual fund in hindi: म्यूचुअल फंड (Mutual fund) जिसे हिन्दी में पारस्परिक निधि कहते हैं, लेकिन इसका अंग्रेजी नाम ज्यादा प्रचलित है, एक प्रकार का सामुहिक निवेश होता है।

AMC: म्यूचुअल फंड एक एैसा फंड है जो एैसेट मैनेजमेंट कंपनीस (Asset management company) द्वारा मैनेज किया जाता है।

जो बड़ी संख्या में कई निवेशकों से पैसा जमा करती है और उनके पैसो को  stocks, bonds और दूसरे फ़ायनैन्शल assets में निवेश करती है।

म्यूचुअल फंड (mutual fund) में एक फंड मैनेजर होता है जो आपके निवेशों को निर्धारित करता है और लाभ – हानि (Mutual fund dividend) का हिसाब रखता है।

How Mutual Fund Works: म्यूचुअल फंड कैसे काम करता है, आइए इसे एक उदाहरण के साथ समझते हैं।

मान लीजिए मोहित नाम का एक लड़का है जिसे शेयर मार्केट को लेकर अभी अभी रुचि बढ़ी है और वह भी अपना पैसा शेयर मार्केट में लगाना चाहता है। 

लेकिन समस्या यह है कि मोहित को शेयर बाजार की जरा भी जानकारी नहीं है, और न ही उसके पास इतना समय है कि वह शेयर बाजार के आंकड़ों को देखने के लिए दिन-रात बैठ सके। कि कौन सी कंपनी तेजी से बढ़ रही है और कौन सी कंपनी घाटे में जा रही है।

अब आप भी मेरे इस बात से सहमत होंगे कि मोहित जैसे भारत में लाखों – करोड़ों लोग हैं।  जिनके पास ना ही समय है और न ही शेयर बाजार का अनुभव।

और आपको सच बताऊं तो,मैं भी उनमें से एक हूं, ना ही मेरे पास समय है और ना ही शेयर मार्केट का सालों का अनुभव। 

तो अब सवाल आता है – कि हम जैसों का क्या ?

क्या, हम अपना पैसा बिना दिमाग और समय लगाए शेयर बाजार में निवेश नहीं कर सकते?

तो इसका उत्तर है:- जी हां हम बिल्कुल कर सकते हैं – म्यूचुअल फंड की मदद से।

Top 5 Best Performing (Equity Mutual Funds India).

Best Performing Equity Mutual Funds3-year Return (%)5-year Return (%)
Tata Digital India Fund Direct-Growth28.51%27.42%
ICICI Prudential Technology Direct Plan-Growth30.76%26.80%
Aditya Birla Sun Life Digital India Fund Direct-Growth29.30%25.68%
SBI Technology Opportunities Fund Direct-Growth26.55%24.43%
Quant Infrastructure Fund Direct-Growth34.32%21.84%
mutual fund best return: उपरोक्त प्रतिशत (%) बाजार के अधीन है, यह समय-समय पर बदलता रहता है, कृपया निवेश करने से पहले नवीनतम प्रतिशत (%) की जांच करें।-businesshunk.com

Mutual fund highest return: उपरोक्त चार्ट में कुछ कंपनियों के नाम हैं जिन्होंने पिछले कुछ वर्षों में सबसे अधिक रिटर्न दिया है।

अब म्यूचल फंड कंपनी मोहित जैसे लाखों- करोड़ों लोगों का पैसा लेती है -जिनका उद्देश्य एक ही होता है। पैसे से पैसा बनाना।

Note:- मोहित ने अगर म्यूचल फंड में पैसा लगाया है। तो उन्हें निवेशक कहा जाएगा।

अब म्यूचल फंड (Mutual Fund) कंपनी सभी निवेशकों का पैसा लेकर विभिन्न विकल्पों जैसे इक्विटी, बांड,शेयर मार्केट के साधनों, और अन्य सिक्योरिटीज में ये राशि निवेश करती है| 
आपको बता दें कि आपका पैसा पेशेवर फंड मैनेजर द्वारा निवेश करा जाता है, जिन्हें 20 से भी अधिक वर्षों का अनुभव रहता है। 

अब बात करते हैं आपके फायदे की, और समझाते हैं म्यूच्यूअल फण्ड का गणित।

मान लीजिये मोहित के पास, ₹100 है। शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करने के लिए। 

लेकिन मात्र इतने पैसे से किसी बड़ी कंपनी का एक ही शेयर खरीद पाएगा। और अगर कंपनी डूब जाती है तो उसका सारा पैसा खत्म हो जाएगा। 

लेकिन अगर एक लाख लोग अपने- अपने ₹100 म्यूच्यूअल फंड (Mutual Fund Company) कंपनी में निवेश करते हैं, तो म्यूच्यूअल फंड कंपनी के पास टोटल 1 करोड़ रुपए (₹1,00,00,000) हो जाते हैं।

अब यहां काम आता है म्यूचल फंड कंपनी का।

100 x 100000 = ₹1,00,00,000

म्यूच्यूअल फंड कंपनी इस (₹1,00,00,000) को अलग-अलग इंडस्ट्री के कंपनियों में निवेश करेगी। 

जैसे:- कुछ पैसा केमिकल इंडस्ट्री में तो कुछ पैसा एजुकेशन इंडस्ट्री में, कुछ टाटा स्टील में।

जैसे कुछ पैसा केमिकल इंडस्ट्री में तो कुछ पैसा एजुकेशन इंडस्ट्री में, कुछ टाटा स्टील में।,…….आदि।

ऐसे ही 100 से भी अधिक कंपनियों में आपके पैसे को प्रोफेशनल द्वारा निवेश किया जाता है।

इनमें से कोई एक या दो कंपनी डूब भी जाती है या फिर अच्छा परफॉर्म नहीं करती है तो भी आपका सारा पैसा नहीं डूबेगा। 

जब आप किसी म्यूचुअल फंड में निवेश करते हैं, तो आपको आपके पैसे के बदले NAV दिया जाता है।

NAV:- यानी नेट एसेट वैल्यू (Net Asset Value)

NAV क्या है?

म्यूचुअल फंड (Mutual Fund) के शेयर की कीमत नेट ऐसेट वैल्यु या एनएवी (NAV) कहलाती है। 

जब आप म्यूचुअल फंड्स(Mutual Fund) में निवेश करते है तो आपको एनएवी (NAV ) के बारे में समझना बहुत जरूरी है। 

Mutual Funds में निवेश से पहले NAV की पूरी जानकारी होने से आप अपने प्रॉफिट और लॉस का आसानी से पता लगा सकते हैं।

किसी भी म्यूच्यूअल फण्ड की एक यूनिट की कीमत को NAV यानी नेट एसेट वैल्यू (Net Asset Value) कहते हैं।

आइए इसे एक उदाहरण के साथ समझते हैं,

मान लीजिए आप म्यूच्यूअल फण्ड में ₹10,000 लगाना चाहते हैं और उस म्यूच्यूअल फण्ड के 1 यूनिट (NAV) की कीमत (₹100) है –

Mutual Fund Units (NAV)

तो आपको NAV की कीमत के अनुसार इस स्कीम की 100 यूनिट मिलेंगी। 

10,000/100 = 100

म्यूचुअल फंड के प्रकार (Mutual Fund Types)

लोगों के अलग जरूरतों को पूरा करने के लिए विभिन्न प्रकार के म्यूचुअल फंड मौजूद हैं। मोटे तौर पर ये तीन प्रकार के होते हैं।

  1. इक्विटी म्यूचुअल फंड (Equity Mutual Fund)
  2. डेट म्यूचुअल फंड (Debt Mutual Fund)
  3. हाइब्रिड म्यूचुअल फंड (Hybrid Mutual Fund)

Mutual Fund Regulated By: 

mutual fund regulated by:  SEBI (सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया), जो कि भारत में बाजार को नियंत्रित करता है। Mutual Funds की सभी कंपनी SEBI के अंतर्गत पंजीकृत हैं। 

निवेशकों के पैसो को बाजार में सुरक्षित रखने का काम SEBI के द्वारा किया जाता है। 

SEBI द्वारा यह सुनिश्चित किया जाता है कि कोई भी कंपनी लोगों के साथ धोखा नहीं कर रही है।

भारत में म्यूच्यूअल फण्ड बहुत पहले से मौजूद है, लेकिन आज भी लोग इसके बारे में ज्यादा नहीं जानते हैं। पुराने जमाने में लोगों की यह धारणा थी कि म्यूच्यूअल फण्ड सिर्फ अमीर वर्ग के लिए होता है।

लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नहीं है और आज के समय में यह धारणा बदलती नजर आ रही है. लोगों का रुझान म्यूच्यूअल फण्ड की ओर बढ़ा है।

म्यूच्यूअल फण्ड (mutual fund) सही है और सबके लिए है।

यह भी पढ़ें: Small Business Ideas: Hydroponic Farming Business | खेती करने का आधुनिक तरीका | कमाई लाख रुपया महीना।

SIP vs Lumpsum Mutual Fund (SIP और लम- सम क्या होता है ?)

म्यूचुअल फंड में निवेश करने के मुख्य दो तरीके हैं। पहला (SIP) और दूसरा लम-सम (Lumpsum) 

SIP: के तहत हर महीने आपके बैंक खाते से एक निश्चित राशि (आपके द्वारा निर्धारित) काट ली जाती है।

जितने भी साल के लिए आपने म्यूच्यूअल फंड का प्लान लिया हो।  जैसे कि 20 साल या फिर 30 साल तक। 

Lumpsum: इसके अंतर्गत आप एक ही बार में सारा पैसा दे देते हैं।  

यानि 20 या 30 सालो के लिए आपने म्यूच्यूअल फण्ड में पैसा निवेश कर दिया।

म्यूचुअल फंड में ऑनलाइन निवेश कैसे करें? (How to Invest in Mutual Funds Online?)

आजकल म्यूचुअल फंड में ऑनलाइन निवेश करने के लिए बाजार में बहुत सारे एप्लीकेशन हैं। लेकिन मेरा पर्सनल फेवरेट INDmoney एप्लीकेशन हैं, जो यूजर फ्रेंडली है और इस प्लेटफार्म पर 0% कमीशन फीस भी है। 

यानी खाता खोलने से लेकर निवेश करने तक आपसे कोई शुल्क नहीं लिया जाता है।

और न ही पैसे निकालने के लिए आपसे कोई शुल्क लिया जाता है।

0% कमीशन फीस >>>>

What is Mutual Fund in Hindi – businesshunk.com

मतलब सब कुछ फ्रीऔर आपको बता दूं कि मुझे INDmoney के बारे में लिखने के लिए कोई पैसा नहीं दिया गया है। यह मेरा पर्सनल फीडबैक है आप लोगों के लिए।

F&Q

क्या म्यूचुअल फंड में निवेश करना सुरक्षित है?

म्यूचुअल फण्ड में से पैसा कई क्षेत्रों में निवेश किया जाता है, इस तरह स्टॉक या बॉन्ड के मुकाबले इनमें कम जोखिम होता है। और इस पैसे को पेशेवर फंड मैनेजर द्वारा मैनेज किया जाता है।

Mutual Fund Best Return: म्यूचुअल फंड पर रिटर्न (लाभ) की औसत दर क्या है?

लम्बे समय में, इक्विटी स्कीम में औसतन लगभग 12%, का रिटर्न (लाभ) मिलता है। अगर आप अगले 30 साल तक हर महीने ₹3000 म्यूचुअल फंड (Mutual Fund) में निवेश करते हैं तो 12% रिटर्न (लाभ) की दर से आपका पैसा (₹1,00,00,000) 1 करोड़ रुपये हो जाएगा।

किसी म्यूचुअल फंड में निवेश शुरू करने के लिए आपको कितना धन चाहिए?

हालाँकि, आप न्यूनतम 500 रु. से निवेश करना शुरू सकते हैं। आप अगले 30 साल तक हर महीने ₹500 म्यूचुअल फंड में निवेश करते हैं तो 12% रिटर्न की दर से आपका पैसा 17,64,000 करोड़ रुपये हो जाएगा।

 म्यूचुअल फंड में निवेश करने का सही समय क्या है?

विभिन्न अध्ययनों से पता चला है कि बाज़ार में निवेश करने के लिए सही समय का इंतेज़ार करने के बजाए बाज़ार में निवेश करना ज़्यादा बेहतर है। बाज़ार सुधार की प्रतीक्षा न करें क्योंकि इस प्रतीक्षा की कोई निश्चित अवधि नहीं है। आपका लक्ष्य क्या है और बिना देरी किए निवेश करें।

म्यूच्यूअल फंड कितने प्रकार के होते हैं ?

मुख्य रूप से म्यूच्यूअल फंड 3 प्रकार के होते हैं। 1- इक्विटी फंड, 2- डेट फंड, 3-हाइब्रिड फंड

म्यूचुअल फंड में ऑनलाइन निवेश कैसे करें

INDmoney एप्लीकेशन द्वारा, आजकल म्यूचुअल फंड में ऑनलाइन निवेश करने के लिए बाजार में बहुत सारे एप्लीकेशन हैं। लेकिन मेरा पर्सनल फेवरेट INDmoney एप्लीकेशन हैं, जो यूजर फ्रेंडली है और इस प्लेटफार्म पर 0% कमीशन फीस है। – मतलब सब कुछ फ्री।

आज आप ने क्या सीखा?

इस ब्लॉग पोस्ट में हमने म्यूच्यूअल फंड क्या है यह कितने प्रकार का होता है और म्यूचुअल फंड (Mutual Fund) में निवेश करने का सबसे बढ़िया माध्यम या एप्लीकेशन कौन सा है।
मुख्य रूप से इन चीजों के बारे में सीखा।

हमें उम्मीद है कि आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आई होगी।

अगर म्यूच्यूअल फण्ड की जानकारी से सम्बंधित कोई समस्या है या जानकारी चाहिए तो कमेंट बॉक्स में लिखें ताकि हम समय रहते आपकी मदद करने की कोशिश कर सकें।


Spread the love

6 Comments

  1. I am often to blogging and i actually respect your content. The article has actually peaks my interest. I am going to bookmark your web site and keep checking for brand spanking new information.

  2. Hey! I just want to give an enormous thumbs up for the great information you’ve right here on this post. I will probably be coming again to your blog for extra soon.

  3. Aw, this was a really nice post. In thought I wish to put in writing like this moreover ?taking time and precise effort to make a very good article.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *